Thursday, 4 July 2013

:)

मित्रों आज जुहू बीच chopati गए मगर ज्वार आने की वजह से बीच तक नहीं जाने दिया लेकिन सागर देखने का आनंद आ गया ..सात सालों में इतना भरा हुआ सागर पहली बार देखा था ..जेसे बाद आ गई हो ....तूफानी हवा ...ऊँची ऊँची लहरें ....फिर दुसरे तट पर गए वहां भी लबालब .....चट्टानों पर टकराती लहरों से खूब मस्ती की .....आधा उन्होंने भिगो दिया ...तभी भारी ईश्वर का भी बारिश आ गई खूब जम कर नहाई ...बहुत आनंद ...आज कुदरत महरबान रही .....उसका शुक्रिया .......ईश्वर का भी ....

No comments:

Post a Comment